Class 12th Physics Objective & Subjective Question Answer 2024 | Bihar Board Inter Exam 2024 Physics Question Paper

1. हवा में εr का मान होता है :

(A) शून्य

(B) अनंत

(C) 1

(D) 9 x 109

Answer:- (C)
2. विद्युत-क्षेत्र में एक आवेशित कण पर लगने वाला बल का मान होता है :

(A) qE

(B) q ⁄ E

(C) E ⁄ q

(D) √qE

Answer:- (A)
3. विद्युत फ्लक्स का S.I. मात्रक है :

(A) ओम-मीटर

(B) एम्पीयर-मीटर

(C) वोल्ट-मीटर

(D) (वोल्ट)(मीटर) -1

Answer:- (C)
4. संबंध Q = ne में निम्नलिखित में कौन n का मान संभव नहीं है?

(A) 4

(B) 8

(C) 4.2

(D) 100

Answer:- (C)
5. आवेश का पृष्ठ-घनत्व बराबर होता है :

(A) कुल आवेश × कुल क्षेत्रफल

(B) कुल आवेश / कुल क्षेत्रफल

(C) कुल आवेश / कुल आयतन

(D) कुल आवेश × कुल आयतन

Answer:- (B)

6. वाहक (रेडियो) तरंगों पर किसी सूचना के अध्यारोपण की प्रक्रिया का नाम है:

(A) प्रेषण

(B) मॉड्यूलेशन

(C) डिमॉड्यूलेशन

(D) ग्रहण

Answer ⇒ B


7. उपग्रह संचारण में विद्युत चुम्बकीय तरंग का कौन सा भाग प्रयुक्त होता है:

(A) प्रकाश तरंगें

(B) रेडियो तरंगे

(C) गामा किरणें

(D) सूक्ष्म तरंगें

Answer ⇒ D
8. रेडियो एवं टेलिविजन प्रसारण में सूचना संकेत का रूप होता है:

(A) डिजिटल सिग्नल

(B) डिजिटल सिग्नल एवं एनालॉग सिग्नल

(C) एनालॉग सिग्नल

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ C
9. ‘h’ ऊँचाई के एंटीना से टी०वी० संकेत अधिकतम दूरी तक प्राप्त किये जा सकते हैं वह है:

(A) V2 hR

(B) h 2 R

(C) R/2h

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ A
10. टेलीविजन संचारण में आमतौर से उपयुक्त आवृत्ति परास है:

(A) 30-300 MHz

(B) 30-300 GHz

(C) 30-300 KHz

(D) 30-300 Hz

Answer ⇒ A

11. त्वरित आवेश उत्पन्न करती है

(A) अल्फा किरणें

(B) गामा किरणें

(C) बीटा किरणें

(D) विद्युत चुम्बकीय तरंग

Answer ⇒ D
12. 30°C पर आवेशित कण चुम्बकीय क्षेत्र में प्रवेश करता है। उसका पथ हो जाता है

(A) वृत्ताकार

(B) हेलिकल

(C) दीर्घवृत्तीय

(D) सीधी रेखा

Answer ⇒ B
13. जब किसी आम्मापी को शंट किया जाता है तो इसकी सीमा क्षेत्र –

(A) बढ़ती है

(B) घटती है

(C) स्थिर होती है

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ A
14. 1 ऐम्पियर परिसर सीमा के एक आम्मापी के प्रतिरोध 0.9 Ω है. जिसका परिसर 10 ऐम्पियर करने के लिए आवश्यक शंट होगा

(A) 0.1 Ω

(B) 0.01 Ω

(C) 0.9 Ω

(D) 1 Ω

Answer ⇒ A


15. विद्युत् धारा के चुम्बकीय प्रभाव की खोज की थी

(A) ऐम्पियर ने

(B) ऑस्ट्रेड ने

(C) फ्लेमिंग ने

(D) फैराडे ने

Answer ⇒ B
16. धारावाही वृत्तीय कुंडली के केन्द्र पर उत्पन्न चुम्बकीय क्षेत्र रहता है

(A) कुण्डली के तल में

(B) कुण्डली के तल के लम्बवत्

(C) कुण्डली के तल से 45° पर

(D) कुण्डली के तल से 180° पर

Answer ⇒ B

17. मैक्सवेल समीकरण चार नियमों को निरूपित करता है। इनमें मैक्सवेल-एम्पियर नियम संबंधित करता है

(A) चुम्बकीय फ्लक्स परिवर्तन की दर को कुल धारा से

(B) चुम्बकीय फ्लक्स परिवर्तन की दर को कुल विस्थापन धारा से

(C) चुम्बकीय फ्लक्स परिवर्तन की दर को धारा से

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ A
18. विस्थापन धारा का मात्रक है

(A) A

(B) Am

(C) OmA

(D) J

Answer ⇒ A
19. प्रयोगशालाओं को बैक्टीरिया से मुक्त कराने में उपयोग की जाती है

(A) अल्ट्रावायलेट किरणें

(B) अवरक्त किरणें

(C) दृश्य प्रकाश

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ A


20. विद्युत-चुम्बकीय तरंग में विद्युतीय एवं चुम्बकीय क्षेत्रों के बीच कलान्तर होता है

(A) 0

(B) π / 2

(C) π

(D) कुछ भी

Answer ⇒ A


21. विद्युत्-चुम्बकीय तरंग का संचरण

(A) विद्युतीय क्षेत्र के लम्बवत्

(B) चुम्बकीय क्षेत्र के लम्बवत्

(C) दोनों के लम्बवत् होता है

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ C


22. इनमें से कौन गलत कथन है?

(A) विद्युत्-चुम्बकीय तरंगें अनुप्रस्थ होती हैं

(B) विद्युत्-चुम्बकीय तरंगें निर्वात् में प्रकाश के वेग से चलती हैं

(C) विद्युत्-चुम्बकीय तरंगों के वेग सभी माध्यमों में समान होती है

(D) विद्युत्-चुम्बकीय तरंगें त्वरित आवेश से उत्सर्जित होती है ।

Answer ⇒ C

 

23. प्रत्यावर्ती धारा परिपथ में यदि धारा I एवं वोल्टेज के बीच कलान्तर हो तो धारा का वाटहीन घटक होगा :

(A) Icosα

(B) Isinα

(C) Itanα

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ B
24. किसी प्रत्यावर्ती धारा परिपथ में धारा एवं विभवान्तर के बीच कलान्तर θ है। तब शक्ति गुणांक होगा :

(A) cosθ

(B) sinθ

(C) tanθ

(D) 1θ

Answer ⇒ A


25. चोक कुण्डली का कार्य सिद्धान्त निम्न पर आधारित है :

(A) कोणीय संवेग संरक्षण

(B) स्वप्रेरण

(C) अन्योन्य प्रेरण

(D) संवेग संरक्षण

Answer ⇒ B
26. एक उच्चायी परिमापित्र में कुण्डलियों में फेरों की संख्या में प्रथांमक में N1 तथा द्वितीयक में N2 तक

(A) N1 = N2

(B) N1 < N2

(C) N1 > N2

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ B


27. A.C. का समीकरण i = 50 sin100t है तो धारा की आवृत्ति होगी

(A) 50π हर्टज

(B) 50 / π हर्टज

(C) 100π हर्टज

(D) 100 / π हर्टज

Answer ⇒ B
28. युक्ति जो वोल्टता को बढ़ा देता है उसे क्या कहते हैं?

(A) प्रतिरोध

(B) अपचायी ट्रांसफॉर्मर

(C) उच्चायी ट्रांसफॉर्मर

(D) ट्रांसफॉर्मर

Answer ⇒ B
29. यदि LCR परिपथ में L= 8.0 हेनरी, C = 0.5 μ, R = 100 Ω श्रेणीक्रम में हैं, तो अनुनादी आवृत्ति होगी

(A) 600 रेडियन/सेकेण्ड

(B) 500 रेडियन/सेकेण्ड

(C) 600 हर्ट्स

(D) 500 हर्ट्स

Answer ⇒ B

30. एक चोक कुण्डली का व्यवहार परिपथ में धारा को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है

(A) केवल a.c. परिपथ में

(B) केवल d.c. परिपथ में

(C) दोनों a.c. तथा d.c. परिपथों में

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ A
31. LCR परिपथ में धारिकत्व को C से बदलकर 4C कर दिया जाता है। समान अनुनादी आवृत्ति के लिए प्रेरकत्व को L से बदलकर होना चाहिए।

(A) 2L

(B) L / 2

(C) L / 4

(D) 4L

Answer ⇒ D
32. ट्रान्सफॉर्मर के प्राथमिक तथा द्वितीय कुण्डली में लपेटों की संख्या क्रमश: 1000 तथा 3000 है। यदि 80 वोल्ट के a.c. प्राथमिक कुण्डली में आरोपित किया जाता है तो द्वितीयक कुण्डली के प्रति फेरों में विभवांतर होगा

(A) 240 V

(B) 2400 V

(C) 0.024 V

(D) 0.08 V

Answer ⇒ D
33. अपचायी ट्रान्सफॉर्मर बढ़ाता है

(A) धारा

(B) वोल्टता

(C) वाटता

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ A
34. प्रत्यावर्ती धारा का ऊष्मीय प्रभाव प्रमुखतः है

(A) जूल ऊष्मन

(B) पेल्टियर ऊष्मन

(C) टॉमसन प्रभाव

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ A
35. संधारित्र का शक्ति गुणांक लगभग है

(A) 90°

(B) 1

(C) 180°

(D) 0

Answer ⇒ D
36. निम्नलिखित में से किसके लिए संधारित्र अनंत प्रतिरोध की तरह कार्य करता है?

(A) DC

(B) AC

(C) DC तथा AC दोनों

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ A
37. L-C परिपथ को कहा जाता है

(A) दोलनी परिपथ

(B) अनुगामी परिपथ

(C) शैथिल्य परिपथ

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ A
38. प्रतिबाधा (Impedance) का S.I. मात्रक होता है

(A) हेनरी

(B) ओम

(C) टेसला

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ B
39. प्रत्यावर्ती धारा का समीकरण I = 60 sin 100 πt है, धारा के मूल-माध्य-वर्ग का मान होगा

(A) 60√2

(B) 60 / √2

(C) 100

(D) शून्य

Answer ⇒ B
40. प्रतिघात का मात्रक होता है

(A) ओम

(B) फैराडे

(C) एम्पेयर

(D) म्हो

Answer ⇒ A
41. L-R परिपथ की प्रतिबाधा होती है

(A) R = ωL

(B) R2+ω2L2

(C) √R2+ω2L2

(D) R

Answer ⇒ C


42. प्रत्यावर्ती विद्युत्-धारा परिपथ में अनुनाद की अवस्था में धारा और वि०वा० बल के बीच का कलान्तर होता है

(A) π / 2

(B) π / 4

(C) शून्य

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ C
43. यदि प्रत्यावर्ती धारा तथा वि०वा० बल के बीच कलान्तर φ हो, तो शक्ति गुणांक (Power factor) मान होता है

(A) tanφ

(B) cos2φ

(C) sinφ

(D) cosφ

Answer ⇒ D


44. L-R परिपथ की शक्ति गुणांक होता है

(A) R2+ωL

(B) R / √R2+ω2L2

(C) R√R2+ω2L2

(D) ωL / R

Answer ⇒ B
45. तप्त-तार आमीटर मापता है, प्रत्यावर्ती धारा का

(A) उच्चतम मान

(B) औसत मान

(C) मूल औसत वर्ग धारा

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ C


46. ट्रांसफॉर्मर के कोर को परतदार बनाया जाता है, ताकि

(A) उच्च धारा प्रवाहित हो सके

(B) उच्च विभव प्राप्त हो सके

(C) भँवर धाराओं द्वारा होने वाली हानि कम की जा सके

(D) अधिक ऊर्जा प्राप्त की जा सके

Answer ⇒ C
47. किसी LCR परिपथ में ऊर्जा का क्षय होता है

(A) प्रेरक में

(B) प्रतिरोधक में

(C) धारित्र में

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer ⇒ A


48. घरेलू विद्युत्-आपूर्ति की आवृत्ति 50 हर्ट्ज है। धारा का मान शून्य होने की आवृत्ति होगी

(A) 25

(B) 50

(C) 100

(D) 200

Answer ⇒ A

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Scroll to Top